/*-------------------------- Narrow black Orange-------------*/ .MBT-readmore{ background:#fff; text-align:right; cursor:pointer; color:#EB7F17; margin:5px 0; border-left:400px dashed #474747; border-right:2px solid #474747; border-top:2px solid #474747; border-bottom:2px solid #474747; padding:2px; -moz-border-radius:6px; -webkit-border-radius:6px; font:bold 11px sans-serif; } .MBT-readmore:hover{ background:#EB7F17; color:#fff; border-left:400px dashed #474747; border-right:2px solid #EB7F17; border-top:2px solid #EB7F17; border-bottom:2px solid #EB7F17; } .MBT-readmore a { color:#fff; text-decoration:none; } .MBT-readmore a:hover { color:#fff; text-decoration:none; }

Saturday, 22 June 2013

पढ़े, आखिर ये हैकिंग कैसे होती है?

 आखिर ये हैकिंग कैसे होती है। कंप्यूटर में शैतानी यानी हैकिंग। घर बैठे दुनिया के किसी कोने के कंप्यूटर के साथ छेड़छाड़ करने वाले और उससे तमाम महत्वपूर्ण जानकारियां आसानी से निकालने वाले को हैकर्स कहते हैं। जानकारों का कहना है कि हैकिंग के लिए बाजार में तमाम सॉफ्टवेयर मौजूद हैं लेकिन इसपर रोक लगाने का कोई तरीका अभी तक नहीं बना है।


लंबे समय तक इनके शैतानी कारनामों को बचपना बताकर खारिज कर दिया जाता था। इनकी गलतियों को छोटी मोटी बातें कह कर टाल दिया जाता था। लेकिन अब हैकर्स का एक बड़ा नेटवर्क है जो दुनिया के हर कोने में मौजूद है।

इनका मकसद पैसा कमाना हो गया है। इनके निशाने पर छोटी-मोटी साइटें नहीं बल्कि प्रतिष्ठित, विश्वसनीय और बड़ी वेबसाइटें होती हैं जहां लोग नियमित तौर पर अपने वेब ब्राउजर के जरिए विजिट करते हैं। ये बिक्री और वितरण से जुड़ी वेबसाइटों को खासतौर पर निशाने पर लेते हैं।

कंप्यूटर के जानकारों का कहना है कि हैकर्स सबसे पहले वेबसाइट का पासवर्ड तोड़ते हैं। इसके लिए कई तरह के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है। जानकार मानते हैं कि एक बार जैसे ही किसी ने आपका पासवर्ड हैक किया उसके बाद वो आप से जुड़ी सारी जानकारी अपने कब्जे में कर लेता है। आपके पैसे के लेन-देन से लेकर बैंक का पूरा हिसाब हैकर्स अपने पास रखने लगता है।

वो मन मुताबिक आपके बैंक अकाउंट से छेड़छाड़ कर सकता है। अगर आप किसी बड़े प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं तो उससे जुड़े सारे डाटा की कॉपी हैकर्स करता रहता है। जानकारों का कहना है कि इंटरनेट पर भी हैकिंग के तमाम तरीके उपलब्ध हैं। जिसे देखकर और पढ़कर लोग इस धंधे में आ रहे हैं।

एक आंकड़े के मुताबिक साल 2007 के पहले छह महीनों में गलत तरीके से साइट हैक करने की दो लाख बारह हजार मामलों की शिनाख्त की गई। इसमें प्रति इंटरनेट उपभोक्ता के ये मामले सबसे ज्यादा इस्तमाल में देखने को मिले। इसके बाद नंबर है कनाडा और फिर अमेरिका का।


आज का अनमोल वचन

मनुष्य सबसे बड़ी भूल तब करता हे जब वो खुद को कमजोर  और निराश मानता हे ! और समजता हे की  कोई भी ताकत नहीं हे और में जिंदगी में कुछ नहीं कर सकता !

2 comments:

  1. Is jankari k liye dhanyvaad, mein aap se 1 madad chahta hu mere bsnl penta co. Ka Ws703c tablet h jis par sirf 2G net hi chalaa sakte h 3g nahi 2g net bahot slow h, kya mujhe koi aisa app milega jisse mujhe 3g net apne android mob. Par bagair dongle k chalaa saku mera email id h - salimshaikh772@gmail.com

    ReplyDelete
  2. Is jankari k liye dhanyvaad, mein aap se 1 madad chahta hu mere bsnl penta co. Ka Ws703c tablet h jis par sirf 2G net hi chalaa sakte h 3g nahi 2g net bahot slow h, kya mujhe koi aisa app milega jisse mujhe 3g net apne android mob. Par bagair dongle k chalaa saku mera email id h - salimshaikh772@gmail.com

    ReplyDelete

अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो अपने विचार दे और इस ब्लॉग से जुड़े और अपने दोस्तों को भी इस ब्लॉग के बारे में बताये !